केंद्रीय मंत्री ने पराशर में पवित्र झील किनारे सैंकड़ों लोगों संग की योग साधना

8वेें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए मंडी जिला पहुंचे केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने सुप्रसिद्ध धार्मिक एवं पर्यटन स्थल पराशर में सैंकड़ों लोगों के साथ पवित्र झील किनारे योग साधना की

केंद्रीय मंत्री ने पराशर में पवित्र झील किनारे सैंकड़ों लोगों संग की योग साधना

यंगवार्ता न्यूज़ - मंडी     21-06-2022

8वेें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए मंडी जिला पहुंचे केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने सुप्रसिद्ध धार्मिक एवं पर्यटन स्थल पराशर में सैंकड़ों लोगों के साथ पवित्र झील किनारे योग साधना की। द्रंग के विधायक जवाहर ठाकुर ने भी उनके साथ योग शिविर में भाग लिया।

बता दें, आजादी के अमृत महोत्सव को ध्यान में रखते हुए आयुष मंत्रालय ने सामूहिक योग कार्यक्रमों के लिए देशभर में 75 महत्वपूर्ण स्थान तय किए थे। इन 75 महत्वपूर्ण स्थानों में मंडी जिले के पराशर को भी रखा गया था। इसके लिए केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी विशेष तौर पर पराशर पधारे थे।
  
समुद्रतल से 2730 मीटर की ऊंचाई पर स्थित ऋषि पराशर की साधना स्थली में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सुबह से ही लोग तैरते टापू वाली झील के नाम से मशहूर पवित्र ‘पराशर झील’ के किनारे बड़ी संख्या में एकत्र थे। योग शिविर से पहले सभी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संदेश को सुना, इसके लिए बड़ी एलईडी स्क्रीन लगाकर सीधे प्रसारण की व्यवस्था की गई थी। 

इस मौके केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने कहा कि ऋषि पराशर के सिद्ध साधना स्थल पर योग शिविर में भाग लेना अपने आप में एक अदभुत अनुभव है। प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी ने अपने दृढ़ संकल्प और उत्साह से साल दर साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया है। आज पूरी दुनिया इसे धूमधाम से मना रही है।

उन्होंने कहा कि देश इस वक्त आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है और योग दिवस के माध्यम से लोगों को यही संदेश देने का प्रयास किया जा रहा है कि वे योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाकर स्वस्थ रहें।

योग शिविर में प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त उत्तर पश्चिम क्षेत्र पी.एस.सचदेवा, प्रधान आयकर आयुक्त चंडीगढ़ विक्रम गौड़, आयकर आयुक्त प्रशासन मनु मलिक, अतिरिक्त आयकर आयुक्त मंडी एस.के चैटर्जी, अतिरिक्त आयकर आयुक्त शिमला महेश ठाकुर,  आयकर अधिकारी मंडी अमरजीत शर्मा और राकेश ठाकुर सहित अन्य अधिकारी और बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों ने भाग लिया।