दहशत : देश में पक्षियों की मौत से मंचा कोहराम , अब इंसानों को भी सताने लगा डर जानिए.....

दहशत : देश में पक्षियों की मौत से मंचा कोहराम , अब इंसानों को भी सताने लगा डर जानिए.....

न्यूज़ एजेंसी - नई दिल्ली 04-01-2021

 भारत समेत पूरी दुनिया में अपने कहर से चिंता बढ़ाने वाले कोरोना वायरस के दौर के बीच एक और चिंता में डाल देने वाली खबर सामने आ रही है । खबर है कि देश में बड़ी मात्रा में पक्षियों की मौत हो रही है । पक्षियों कि एकदम से यूं मौत होना एक चिंतामयी विषय बन गया है और इस पर रिसर्च की जा रही है कि आखिर पक्षी मर क्यों रहे हैं । अचानक ऐसा क्या हो गया है जिससे पक्षी मौत के घाट उतर रहे हैं । फिलहाल, इस मामले को देखते हुए तरह-तरह के सावधानियों से संबंधित कदम उठने शुरू हो गए हैं ।  इस मामले को लेकर सतर्कता बरतने को कहा गया है । क्योंकि ऐसा माना जा रहा है कि पक्षियों के बीच कोई बीमारी फैली है जिससे एक-दूसरे के संपर्क में आने पर इनकी मौत हो रही है।  हो सकता है यह ‘फ्लू’ हो, जो इंसानों के बीच ‘बर्ड फ्लू’ का काम करे। गौर हो कि हर साल ठंड के मौसम में पशु-पक्षियों की मुसीबत बढ़ जाती है लेकिन इस तरह से इतनी मात्रा में पक्षियों की मौत चिंताजनक है । फ़िलहाल इन्हें बचाने की कवायद तेज कर दी गई है। अब तक राजस्थान, एमपी, हिमाचल और गुजरात में पक्षियों के बड़ी मात्रा में मौत देखी गई है।

पोंग डैम में पक्षियों की रहस्यमयी मौत…

हिमाचल प्रदेश स्थित पोंग डैम में 1000 से अधिक प्रवासी पक्षियों की रहस्यमयी मौत हो गई है । बता दें कि पाेंग डैम में हर साल अक्तूबर से मार्च तक रूस, साइबेरिया, मध्य एशिया, चीन, तिब्बत आदि देशों से विभिन्न प्रजातियों के रंग-बिरंगे परिंदे लंबी उड़ान भर पहुंचते हैं। इधर वन विभाग ने पक्षियों की मौत पर बर्ड फ्लू की आशंका जताते हुए झील में सभी प्रकार की गतिविधियों पर रोक लगा दी है। वहीँ मौत के कारण का पता लगाने के लिए भोपाल स्थित हाई सिक्यॉरिटी एनिमल डिजीज लैब में सैंपल भेजे जा चुके हैं। वहीँ मध्य प्रदेश के इंदौर में एक कॉलेज में कई कौओं की मौत ने सनसनी फैला दी है । इन कौओं की जांच में दो में ‘एच-5 एन-8’ वायरस का पता चला है। कौओं में वायरस की जानकारी मिलने के बाद राज्य के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अधीन कार्यरत पशु चिकित्सा विभाग और अन्य संबंधित विभाग सक्रिय हो गए हैं । मामले की गंभीरता को देखते हुए एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम (आईडीएसपी) के अतिरिक्त संचालक डॉ. शैलेष साकल्ले ने इंदौर पहुंचकर पूरे मामले की समीक्षा की है और आवश्यक निर्देश जारी किए हैं। वहीं, गुजरात में भी 53 पक्षियों के मरने की खबर से राज्य का शासन-प्रशासन चौकन्ना हो गया है। यहां पक्षियों की मौत के पीछे बर्ड फ्लू की आशंका जताई जा रही है। इधर राजस्थान में भी चिंताजनक स्थिति बनी हुई है । राजस्थान के जयपुर समेत 7 जिलों में 24 घंटों में 100 से ज्यादा कौओं की मौत होने की सूचना मिली है। राज्य की अशोक गहलोत सरकार ने हालात की निगरानी के लिए कंट्रोल रूम स्थापित कर दिए हैं। साथ ही, चार संभागों में विशेषज्ञ दल भी भेजे गए हैं।

पक्षियों की मौत से इंसानों पर क्या खतरा…..

पक्षियों की मौत से इंसानों पर खतरा यह है कि अगर इनकी मौत फ्लू बीमारी से हो रही है तो यह बर्ड फ्लू के रूप में इंसानों के बीच फैलने में देर नहीं लगेगी । सबसे ज्यादा खतरा उन्हें हैं जो अंडे खाते हैं और पक्षियों का मांस खाते हैं । इसलिए इंसानों को मुर्गियों और अन्य पक्षियों के निकट जाने और इनका मांस और अंडे खाने से बचना चाहिए ।

बर्ड फ्लू के लक्षण…..

बर्ड फ्लू के लक्षण भी सामान्य फ्लू जैसे ही होते हैं लेकिन सांस लेने में समस्या और हर वक्त उल्टी होने का एहसास इसके खास लक्षण हैं। हमेशा कफ रहना, नाक बहना, सिर में दर्द रहना, गले में सूजन,  मांसपेशियों में दर्द, दस्त होना, हर वक्‍त उल्‍टी-उल्‍टी सा महसूस होना, पेट के निचले हिस्से में दर्द रहना, सांस लेने में समस्या, सांस ना आना, आंख में कंजंक्टिवाइटिस, निमोनिया होने लगता है।