पीएम की एक झलक पाने के लिए हाथ में मोदी की फोटो लेकर घंटों खड़े रहे लोग 

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीस सेकेंड के दीदार के लिए तीन घंटे तक उनके कार्यकर्ताओं व लोगों ने तपस्या की। घंटों लाइनों में खड़ा रहकर इंतजार किया। बैरिकेट्ड के बाहर जगह बनी रहे और उस जगह पर अन्य कोई और न खड़ा हो जाए

पीएम की एक झलक पाने के लिए हाथ में मोदी की फोटो लेकर घंटों खड़े रहे लोग 

 

यंगवार्ता न्यूज़ - धर्मशाला  16-06-2022
 
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीस सेकेंड के दीदार के लिए तीन घंटे तक उनके कार्यकर्ताओं व लोगों ने तपस्या की। घंटों लाइनों में खड़ा रहकर इंतजार किया। बैरिकेट्ड के बाहर जगह बनी रहे और उस जगह पर अन्य कोई और न खड़ा हो जाए , इसके लिए बैरिकेट्ड के पास जहां खड़े हो गए उस जगह को नहीं छोड़ा। 
 
 
हालांकि कुछ लोग 100 किलोमीटर तो कुछ पचास किलोमीटर दूर आकर धर्मशाला पहुंचे ताकि यहां पर अपने पसंदीदा नेता व देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक झलक पा सकें।सुबह सात बजे ही धर्मशाला में पुलिस जवान तैनात हो गए थे। इसके साथ ही वीवीआइपी वाहनों की आवाजाही बढ़ने के साथ ही साथ दूर दराज के क्षेत्रों से आने वाले लोगों ने नौ बजे तक धर्मशाला में दस्तक दे दी थी ताकि समय पर पहुंच सके और किसी तरह की देरी न हो और वह अपने महबूब नेता का दीदार कर सकें। 
 
हाथों में मोदी की फोटो व गले में भारतीय जनता पार्टी का पटका पहने लोग पहुंचे और बैरिकेट्स के पास खड़े हो गए। लोगों का हौसला बढ़ाने के लिए रोड शो के प्रभारी व विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार, कांगड़ा चंबा के सांसद किशन कपूर, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप, विधायक विशाल नैहरिया सुबह ही लोगों का हौसला बढ़ाने के लिए सड़क में पहुंच गए।
 
 
बेरिकेड्स के पास जाकर अपने कार्यकर्ताओं को मनोबल भी बढ़ाया और किशन कपूर, विपिन परमार व सुरेश कश्यप तथा विशाल नैहरिया ने कुछ समय के लिए सड़क में नाटी भी डाली शहीद स्मारक से लेकर कचहरी केसीसी बैंक चौक तक यह नेता भी काफी मशक्कत करते नजर आए और कार्यकर्ता व पदाधिकारियों सहित रोड शो में पहुंचे लोगों से संवाद करते नजर आए। लोगों के लिए पीने के पानी की भी व्यवस्था पार्टी की ओर से की गई थी। 
 
 
कई घंटे खड़े रहने के बाद वह क्षण आए जब लोगों व कार्यकर्ताओं ने मोदी को अपनी खुद की आंखों से निहारा। लेकिन यह कुछ ही पलों के लिए था, जिससे लोगों की तृप्ती नहीं हुई। खुली जीप में नरेंद्र मोदी ने लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। लोगों ने मोदी पर फूल बरसाए तो मोदी ने भी लोगों पर फूल बरसाए। मोदी के तीस सेकंड के दीदार के लिए तीन घंटे तक इंतजार किया।