प्रदेश की टॉप ब्यूरोक्रेसी में चल रहे शीतयुद्ध पर सीएम जयराम ठाकुर ने लिया कड़ा संज्ञान

प्रदेश की टॉप ब्यूरोक्रेसी में चल रहे शीतयुद्ध पर सीएम जयराम ठाकुर ने लिया कड़ा संज्ञान

यंगवार्ता न्यूज़ - मंडी   03-01-2021

हिमाचल प्रदेश की टॉप ब्यूरोक्रेसी में चल रहे शीतयुद्ध पर सीएम जयराम ठाकुर ने कड़ा संज्ञान लिया है। उन्होंने कहा कि कुछ अफसर किसी तरह केवल समय व्यतीत करने में लगे हैं। 

प्रशासनिक तौर पर फीडबैक का इंतजार किया जा रहा है, जिसके बाद निश्चित रूप से कार्रवाई की जाएगी। जयराम रविवार सुबह मंडी में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। 

उल्लेखनीय है कि दो बड़े अधिकारियों ने सीएम ऑफिस के आला अफसरों के खिलाफ मोर्चेबंदी की हुई है। मुख्य धारा में नियुक्ति न होने से ये अफसर नाराज बताए जा रहे हैं। इनकी कार्यशैली से कामकाज प्रभावित हो रहा है, जिस पर सीएम ने संज्ञान लिया है। 

पत्रकारों से बातचीत के दौरान सीएम ने विपक्ष पर भी खूब निशाना साधा। उन्होंने कहा कि तीन साल के भाजपा के कार्यकाल के दौरान विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है। पूर्व की कांग्रेस सरकार एक योजना ऐसी बताए, जिसमें कोई विजन हो। 

पूर्व सरकार जाते-जाते भी एक-एक लाख के बजट के साथ कई कॉलेज खोल गई। वहीं, मंडी में खराब मौसम के चलते मुख्यमंत्री का सराज दौरा स्थगित हो गया है।

सीएम शिमला लौट गए हैं। रविवार को उन्हें अपने घर तांदी जाना था, जहां अपने विस क्षेत्र में पंचायत चुनावों को लेकर फीडबैक लेना था। 

सीएम ने कहा इन्वेस्टर मीट प्रदेश के लिए नया एक्सपेरिमेंट था। यहां 96,000 करोड़ के एमओयू हुए हैं। 13,600 करोड़ की ग्राउंड ब्रेकिंग की, 10,000 करोड़ के काम चल रहे हैं। कोविड न होता तो ग्राउंड ब्रेकिंग 40,000 करोड़ क्रॉस कर गई होती। 

सीएम ने कहा कि एयरपोर्ट निर्माण के लिए मामला वित्त आयोग के सामने रखा है। एयर स्ट्रिप का मामला उठाया है ताकि उसे बदलने से पहाड़ न काटना पड़े।

शिवधाम की प्रक्रिया फोरेस्ट क्लीयरेंस की वजह से सुप्रीम कोर्ट में लंबित है। सीएम ने कहा कि तत्तापानी और बीड़ बिलिंग को विकसित किया जा रहा है।