गोबिंद सागर झील में जलक्रीड़ा गतिविधियां शुरू करने के लिए डीपीआर बनाने को मिली मंजूरी

गोबिंद सागर झील में जल्द क्रूज, मोटर व हाई स्पीड बोट्स और शिकारे नजर आएंगे। प्रदेश सरकार से झील में जलक्रीड़ा गतिविधियां शुरू करने के लिए डीपीआर बनाने की मंजूरी मिल गई

Oct 20, 2023 - 13:47
 0  8
गोबिंद सागर झील में जलक्रीड़ा गतिविधियां शुरू करने के लिए डीपीआर बनाने को मिली मंजूरी

यंगवार्ता न्यूज़ - बिलासपुर      20-10-2023

गोबिंद सागर झील में जल्द क्रूज, मोटर व हाई स्पीड बोट्स और शिकारे नजर आएंगे। प्रदेश सरकार से झील में जलक्रीड़ा गतिविधियां शुरू करने के लिए डीपीआर बनाने की मंजूरी मिल गई है। डीपीआर बनाने का कार्य लोक निर्माण विभाग को सौंपा गया है। 

डीपीआर तैयार होने के बाद झील में वाटर गतिविधियां शुरू हो जाएंगी। इससे जहां देशभर के पर्यटक बिलासपुर में रुकेंगे, वहीं स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के द्वार भी खुलेंगे। उपायुक्त बिलासपुर आबिद हुसैन सादिक और पर्यटन विभाग के प्रयास रंग लाए हैं। 

उपायुक्त ने वाटर स्पोटर्स शुरू करने की परियोजना को प्रमुखता में रखा था। उपायुक्त और पर्यटन विभाग के अधिकारी के प्रयासों के चलते बीबीएमबी ने इस परियोजना को सशर्त सैद्धांतिक मंजूरी डेढ़ माह पहले दी थी। 

अब डीपीआर की मंजूरी मिलने के बाद झील में क्रूज, मोटर बोट्स, हाई स्पीड बोट्स और शिकारे चलने की उम्मीद बढ़ गई है। परियोजना के धरातल पर उतरने से गोबिंद सागर झील में पर्यटन गतिविधियां बढ़ेंगी। किरतपुर-नेरचौक फोरलेन का काफी लंबा भाग गोबिंद सागर झील के किनारे से होकर गुजरता है।

झील में पर्यटन गतिविधियां होने से फोरलेन से गुजरने वाले पर्यटक आकर्षित होंगे। इसके साथ ही झील के साथ लगते कई धार्मिक और पर्यटन स्थल भी विकसित होंगे। झील में गोवा की तर्ज पर क्रूज और डल झील की तर्ज पर शिकारे उतारने की तैयारी पर्यटन विभाग और जिला प्रशासन कर रहे हैं। क्रूज में सैलानी लग्जरी पार्टियां कर सकेंगे। यहां खाने-पीने से लेकर हर तरह की सुविधा होगी। 

निवेश के लिए बड़ी कंपनियां पर्यटन विभाग के संपर्क में हैं। पर्यटन विभाग को झील में शिकारे, क्रूज और सभी प्रकार की बोट उतारने के लिए साइट की अधिसूचना जारी होने का इंतजार है। वहीं पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने भी कोलबांध, गोबिंद सागर झील, चमेरा और पौंग डैम में वाटर स्पोर्ट्स गतिविधियां शुरू करने की घोषणा की है। 

बिलासपुर से भाखड़ा बांध 65 किमी की दूरी पर है। यह प्रदेश में पहली साइट होगी जो 60 किलोमीटर लंबी होगी। पर्यटक इस साइट पर रोमांच भरा सफर करेंगे। बिलासपुर के दौरे के दौरान मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि जल्द ही झील में वाटर स्पोर्ट्स गतिविधियां शुरू होंगी।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow