भ्रूण-लिंग परीक्षण जैसे अपराध खत्म करने के लिए सरकार ने बनाए सख्त कानून : चौधरी 

भ्रूण-लिंग परीक्षण जैसे अपराध खत्म करने के लिए सरकार ने  गर्भ में पल रहे बच्चे का लिंग जानने के मकसद से परीक्षण कराने वालों को सजा दिलाने के लिए पीसी-पीएनडीटी (पूर्व गर्भाधान और पूर्व निदान तकनीक) एक्ट बनाया

Jun 28, 2024 - 11:22
 0  54
भ्रूण-लिंग परीक्षण जैसे अपराध खत्म करने के लिए सरकार ने बनाए सख्त कानून : चौधरी 

यंगवार्ता न्यूज़ - चंबा    28-06-2024
 
भ्रूण-लिंग परीक्षण जैसे अपराध खत्म करने के लिए सरकार ने  गर्भ में पल रहे बच्चे का लिंग जानने के मकसद से परीक्षण कराने वालों को सजा दिलाने के लिए पीसी-पीएनडीटी (पूर्व गर्भाधान और पूर्व निदान तकनीक) एक्ट बनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने 2013 में एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए इस एक्ट से जुड़े मामलों को 6 माह के भीतर निराकृत करने का आदेश दिया है।  

महिला एवं बाल विकास विभाग चम्बा ने वीरवार को मिलेनीनियम बी.एड. कॉलेज सरु में गर्भधारण पूर्व एवं प्रसव पूर्व निदान तकनीक PCPNDT एक्ट के बारे में जानकारी दी गई l इस दौरान बी.एड. कॉलेज के प्रिंसिपल द्वारा कार्यक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी दी। आयुष विभाग से डॉ. उमा ने कन्या भ्रूण हत्या, लिंग जांच के प्रति जागरूकता और इनके प्रति कानून जानकारी साँझा की। 

जिला मिशन समन्वयक मनोहर नाथ ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के बारे में विस्तार से जानकारी दी तथा महिलाओं से संबंधित विभागीय योजनाओं के बारे में दी। ज्योति काशव जेंडर स्पेशलिस्ट ने महिलाओं  के अधिकार के प्रति विस्तृत जानकारी दी। सखी वन स्टॉप सेंटर से मधु ने महिलाओं के प्रति कानूनी अधिकार तथा वन स्टॉप सेंटर में महिलाओं को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। 

स्वास्थ्य विभाग से डॉ. रोहित ने उपस्थित छात्र छात्राओं को PCPNDT एक्ट के बारे में तथा एनीमिया की रोकथाम के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर ने कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए समाज में व्यापक प्रचार प्रसार करने हेतु विशेष आग्रह किया। कार्यक्रम में 150 से अधिक छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow