मोदी सरकार के 10 वर्षों में देश के बड़े शहरों से जुड़ा हिमाचल रेल नेटवर्क : अनुराग ठाकुर

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने बताया कि पिछले 10 वर्षों में हिमाचल प्रदेश में रेल सेवाओं का अभूतपूर्व विकास हुआ है। आज देश के कई बड़े शहर रेल लाइन के माध्यम से सीधा हिमाचल के ऊना से जुड़ चुके है। अनुराग ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में बेहतर कनेक्टिविटी सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में सदा प्रयासरत रहा हूँ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश में भी बेहतर कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी है

Apr 1, 2024 - 19:24
 0  11
मोदी सरकार के 10 वर्षों में देश के बड़े शहरों से जुड़ा हिमाचल रेल नेटवर्क : अनुराग ठाकुर

न्यूज़ एजेंसी - नई दिल्ली  01-04-2024

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने बताया कि पिछले 10 वर्षों में हिमाचल प्रदेश में रेल सेवाओं का अभूतपूर्व विकास हुआ है। आज देश के कई बड़े शहर रेल लाइन के माध्यम से सीधा हिमाचल के ऊना से जुड़ चुके है। अनुराग ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में बेहतर कनेक्टिविटी सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में सदा प्रयासरत रहा हूँ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश में भी बेहतर कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी है। चाहे रोड हो रेल हो या हवाई सेवा हो पिछले 10 वर्षों में हिमाचल को अनेकों सौग़ातें मोदी सरकार ने दी है। पिछले 10 साल में मोदी सरकार ने हिमाचल प्रदेश को देश के बड़े शहरों से जोड़ दिया है। आज हिमाचल से दिल्ली, अहमदाबाद, जयपुर, इंदौर, हरिद्वार, मथुरा, वृंदावन, नांदेड़ साहब, जोधपुर, साबरमती,  आगरा, उज्जैन, चण्डीगढ़ जैसे कई बड़े शहर रेल नेटवर्क से सीधा जुड़ गए हैं और आगे आने वाले दिनों में कई बड़े शहर जुड़ने वाले हैं। 
रेल सुविधाओं की इस बढ़ोत्तरी से आमजनमानस के साथ साथ सैनिकों और श्रद्धालुओं को सबसे ज़्यादा लाभ मिल रहा है। अनुराग ठाकुर ने कहा कि अभी हाल ही में मेरे अनुरोध पर इंदौर-चंडीगढ़ एक्सप्रेस जो सप्ताह में दो बार चलती थी को अब ऊना तक एक्सटेंशन की मंज़ूरी रेलमंत्री ने दे दी थी। यह ट्रेन अब ऊना से इंदौर तक चलाई जाएगी जिससे वृंदावन जाने वाले यात्रियों को आवागमन की बड़ी सुविधा मिलेगी। साथ ही ऊना हिमाचल से चल कर सहारनपुर जाने वाली ट्रेन का एक्सटेंशन हरिद्वार तक हुआ है। इससे पहले 17 फरवरी को मैंने चक्की नदी पर पुल निर्माण की मंजूरी दिलाई है जिससे जल्द पठानकोट से जोगिंदरनगर के बीच रेल सेवा बहाल हो जाएगी। इसके साथ ही कांगड़ा से नूरपुर के बीच का रेल ट्रैक भी जल्द रिस्टोर कर लिया जाएगा। इसके लिए भी मैंने माननीय रेल मंत्री जी से मिलकर मंजूरी दिलवा दी है। 
पिछले महीने ही दौलतपुर चौक रेलवे स्टेशन के लिए (डीएलपीसी) ₹43 करोड़ से ज़्यादा की लागत से राशि से विकास व उन्नयन कार्यों को मंज़ूरी केंद्र सरकार से मिली है” हिमाचल प्रदेश में रेलसेवाओं का विस्तार हो, हिमाचल को कनेक्टिविटी से जुड़ी कोई समस्या ना हो इसके लिए मोदी सरकार नई ट्रेनें चलाने से लेकर ज़रूरी इंफ़्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट इत्यादि पर पूरी गंभीरता से काम कर रही है। वित्तवर्ष 2023 - 24 के लिए हिमाचल प्रदेश में रेलवे विस्तार के लिए 1838  करोड़ रुपए मंज़ूर किए हैं। सामरिक महत्व की भानुपल्ली-बिलासपुर-बेरी रेल लाइन के लिए 1000 करोड़ ,चंडीगढ़-बद्दी रेललाइन को 450 करोड़ रुपये , नंगल- तलवाड़ा रेल लाइन के लिए 452 करोड़ रुपए वर्ष 2023-24 के बजट में मंज़ूर किए गये हैं। रेल विस्तार के लिए 1838 करोड़ रुपए की यह मंज़ूरी यूपीए शासन काल के वर्ष 2009 - 2014  से 17 गुना ज़्यादा है । वर्तमान में प्रदेश में ₹19556 करोड़ से 258 किलोमीटर की 4 परियोजनाओं पर काम जारी है। 

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow