भारी बारिश और बर्फबारी से कई जगह भूस्खलन , जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद , परीक्षाएं टली , स्कूल बंद

जम्मू-कश्मीर में दो से तीन दिन तक लगातार भारी बारिश व पर्वतीय इलाकों में हुई भारी बर्फबारी के कारण हालात बिगड़ गए हैं। घाटी में कई जगह भूस्खलन के कारण सड़कें अवरुद्ध हो गई हैं। नदियां और नाले उफान पर हैं जिसके कारण निचले इलाकों में बाढ़ की स्थिति है। प्रशासन ने एहतियात के तौर पर सभी स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है। वहीं कश्मीर यूनिवर्सिटी ने मंगलवार को होने वाली परीक्षाएं टाल दी

Apr 30, 2024 - 19:36
Apr 30, 2024 - 19:59
 0  82
भारी बारिश और बर्फबारी से कई जगह भूस्खलन , जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद , परीक्षाएं टली , स्कूल बंद
न्यूज़ एजेंसी - श्रीनगर  30-04-2024
जम्मू-कश्मीर में दो से तीन दिन तक लगातार भारी बारिश व पर्वतीय इलाकों में हुई भारी बर्फबारी के कारण हालात बिगड़ गए हैं। घाटी में कई जगह भूस्खलन के कारण सड़कें अवरुद्ध हो गई हैं। नदियां और नाले उफान पर हैं जिसके कारण निचले इलाकों में बाढ़ की स्थिति है। प्रशासन ने एहतियात के तौर पर सभी स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है। वहीं कश्मीर यूनिवर्सिटी ने मंगलवार को होने वाली परीक्षाएं टाल दी। 
भूस्खलन के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को यातायात के लिए बंद कर दिया गया है। कश्मीर को देशभर से जोड़ने वाले इस मार्ग पर रामबन जिले में कई जगह भूस्खलन हुआ है। अधिकारियों ने कहा है कि बारिश जारी रहने के कारण मरम्मत का काम नहीं हो पा रहा है इसलिए जब तक मलबा साफ नहीं हो जाता, लोग इस मार्ग से गुजरने से बचें। रामबन के परनोत क्षेत्र में हो रहे भू-धंसाव का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है। 
क्षेत्र को नो-गो जोन घोषित कर दिया गया है। प्रशासन स्थिति पर लगातार नजर रखे हुए है। प्रभावित परिवारों को अस्थायी रूप से रामबन के सामुदायिक केंद्र, रिश्तेदारों और पड़ोसियों के घरों में ठहराया गया है। उधर पीर की गली और आसपास के इलाकों में बर्फ पड़ने के कारण मुगल रोड मंगलवार को तीसरे दिन भी बंद रहा। जम्मू व आसपास के इलाकों में मंगलवार को हल्की धूप खिली रही। वहीं कश्मीर में हल्की धूप और बादलों की लुका-छिपी रही। घाटी में कुछ स्थानों पर अब भी भारी बारिश और बर्फबारी का अनुमान है। 
पूर्वोत्तर के राज्यों में भी आने वाले 5 दिनों में तूफान, बिजली और तेज हवा के साथ भारी बारिश की संभावना है। पश्श्मि बंगाल, ओडिशा और बिहार व दक्षिण भारत के राज्यों में हीटवेव यानी लू का कहर जारी है। लगातार बढ़ रहे तापमान के कारण लोगों का घर से बाढ़ निकलना दुश्वार हो रहा है। कई इलाकों में तो सुबह 10 बजे के बाद से ही तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंच रहा है। देश की राजधानी दिल्ली में भी तापमान 40 डिग्री दर्ज किया जा चुका है। मौसम विभाग के अनुसार ऐसे मौसम से इन राज्यों में फिलहाल राहत के आसार नहीं हैं। तापमान अभी और बढ़ेगा।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow