लाखों की जमीन खरीद कर करोड़ो में बेचने वाली 'घोटाला सरकार' : सुधीर शर्मा 

मुख्यमंत्री सुक्खू के धर्मशाला में दिए गए झूठे बयानों पर भाजपा प्रत्याशी सुधीर शर्मा ने फिर सियासी तलवार खींच ली है। मीडिया बयान जारी करते हुए सुधीर शर्मा ने कहा कि सीएम सुक्खू झूठ की दुकान लेकर धर्मशाला में आते हैं और अनाप शनाप बयानबाजी करने लग जाते हैं।

May 24, 2024 - 16:57
 0  38
लाखों की जमीन खरीद कर करोड़ो में बेचने वाली 'घोटाला सरकार' : सुधीर शर्मा 

हलफनामें के अलावा कुछ भी निकला तो सब सरकार को दे दूंगा, सीएम भी दे दें

यंगवार्ता न्यूज़ - धर्मशाला    24-05-2024

मुख्यमंत्री सुक्खू के धर्मशाला में दिए गए झूठे बयानों पर भाजपा प्रत्याशी सुधीर शर्मा ने फिर सियासी तलवार खींच ली है। मीडिया बयान जारी करते हुए सुधीर शर्मा ने कहा कि सीएम सुक्खू झूठ की दुकान लेकर धर्मशाला में आते हैं और अनाप शनाप बयानबाजी करने लग जाते हैं। मेरे ड्राइवर के नाम पर झूठ बोलना सरासर ग़लत है। 

सुक्खू को चैलेंज करते हुए  सुधीर शर्मा ने कहा कि मैं उनको चैलैंज करता हूं कि इलेक्शन कमीशन को सौंपे गए मेरे हल्फनामें के अलावा कुछ भी और मेरा निकला तो मैं सब सरकार को दे दूंगा। लेकिन साथ में सीएम सुक्खू भी अगर झूठ बोल रहे हैं तो उन्हें भी अपना सब कुछ सरकार के नाम कर देना चाहिए... 


सुधीर शर्मा ने कहा कि सीएम सुक्खू ने अपनी आपदा में अवसर तलाशते हुए एक बड़ी छवि बनाने का प्रयास किया। 51 लाख रुपये को जीवन भर की कमाई बताकर ढोंग रचा गया। लेकिन जो SJVNL की बिल्डिंग किराये पर है और उसका किराया बढ़ावाया वो किसकी है...?? इसके आंकड़ें भी सुधीर शर्मा ने पेश किये।

भाजपा प्रत्याशी ने कहा कि मुझे तो लगता है कि पहले मैं सुक्खू के सपने में आता था, लेकिन अब मुझे लगता है कि उन्हें हेलोजीनेशन हो रही है। यानी जब कोई व्यक्ति किसी एक ही व्यक्ति के बारे में सोचता रहता है तो उसे हेलोजीनेशन होने लगती है। आरोप लगाते हुए सुधीऱ शर्मा ने कहा कि सीएम के गृह क्षेत्र नादौन में जो OSD हैं अनिल वो पहले नादौन में तहसीलदार थे। उ

न्होंने वहां पर तीन लोग अजय कुमार, राजेंद्र सिंह राणा, प्रभात चंद के नाम पर ढाई लाख रुपये की रिजस्ट्री की और बाद में जब सुक्खू सीएम बने तो वही जमीन HRTC को 6 करोड़ 72 लाख रुपये में बेची। सुक्खू राज में ये सरेआम भ्रष्टाचार किया गया। राजीव सिंह जो सीएम सुक्खू के सगे भाई हैं उनके नाम 29 हेक्टेयर लीज खड्ड यानी सरकारी वन भूमि की कर दी गई। 

एक ही क्रशर नादौन में चलता रहा जिससे सिर्फ आपके भाई को फायदा हो, सीधे सीधे केंद्रीय एंजेंसियों का केस बनता है। इसी तरह की धांधली पूरे प्रदेश में सुक्खू सरकार के राज में चल रही है। यही वजह है कि सुक्खू अपनी मंत्रीमंडल में किसी को नहीं आने देते। सिर्फ अपनी मित्रमंडली चाहिए ताकि चोर बाजारी चलती रही...

धर्मशाला बस अड्डे के पास किसी कांग्रेस विधायक को फायदा दिलाने के लिए वन विभाग की भूमि पेट्रोल पंप बनाने के लिए चिट्ठी लिखी गई। अधिकारी भी साथ दे रहे और ये पंप निजी क्यों लगाने के लिए कहा गया। ये विधायक NSUI, यूथ कांग्रेस से लेकर कांग्रेस से जुड़े हैं और ये भ्रष्टाचार नहीं तो और क्या है...?? 

यही नहीं, बद्दी में तीन कंपनियों को खरीद फरोख्त पिछले 7 महीने में हो चुकी है। जिस कीमत पर ये कंपनियां खरीदी गईं उससे चार गुणा ज्यादा पर बेच दी गईं। 30 करोड़ सेंट्रल यूनिवर्सिटी के लिए सरकार के पास देने को नहीं, लेकिन पंजाब के किस नेता के 250 करोड़ माफ कर दिए गए... इन सवालों का जवाब सरकार को पब्लिक में देना चाहिए। 

सुधीर ने तंज कसते हुए सुक्खू को कहा कि आज मंच पर सुक्खू कहते हैं कि मेरा गला बैठ गया... लेकिन उनके राज में जो प्रदेश का भट्ठा बैठ गया है उसका हिसाब जनता को देना होगा। उन्होंने कहा कि सीएम ने जो मेरे ऊपर आरोप लगाए हैं कि मेरे ड्राइवर ने जमीनें खरीदी वो सरासर ग़लत है। जिस व्यक्ति की बात कर रहे हैं। 

वह खुद धर्मशाला का एक संपन्न परिवार से हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की एंजेंसियां इतनी कमजोर हैं कि उन्हें पता नहीं कि कौन सी गाड़ी किसकी है और कौन किसकी ड्राइवर है। सीएम के झूठ पर मैं एक और मानहानि करने जा रहा हूं.. उन्होंने कहा कि सीएम ने ऐसे प्यादे पाल रखे हैं जिनका भी जनाधार न के बराबर है। इस प्रदेश की अर्थव्यवस्था, भू माफिया , कानून व्यवस्था, बेरोजागरी के लिए सीएम सुक्खू जिम्मेदार है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow