अपनी विफलताओं को छिपाने के लिए बेबुनियादी बातें कर रहे कांग्रेसी नेता , हर राज्य में फेल हुई कांग्रेस की झूठी गारंटियाँ : अनुराग ठाकुर

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर आज हिमाचल प्रदेश प्रवास पर थे। इस दौरान उन्होंने सर्वप्रथम बिलासपुर में आयोजित त्रिदेव सम्मेलन में भाग लिया। इसके पश्चात अनुराग ठाकुर श्री नैना देवी विधानसभा पहुंचे जहां जगातखाना में आयोजित एससी सम्मेलन में सम्मिलित हुए। अंत में अनुराग ठाकुर ने श्री नैना देवी विधानसभा के घवांडल में आयोजित भाखड़ा विस्थापित प्रकोष्ठ सम्मेलन में भाग लिया

Apr 6, 2024 - 19:45
Apr 6, 2024 - 19:45
 0  91
अपनी विफलताओं को छिपाने के लिए बेबुनियादी बातें कर रहे कांग्रेसी नेता , हर राज्य में फेल हुई कांग्रेस की झूठी गारंटियाँ : अनुराग ठाकुर

यंगवार्ता न्यूज़ - बिलासपुर  06-04-2024

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर आज हिमाचल प्रदेश प्रवास पर थे। इस दौरान उन्होंने सर्वप्रथम बिलासपुर में आयोजित त्रिदेव सम्मेलन में भाग लिया। इसके पश्चात अनुराग ठाकुर श्री नैना देवी विधानसभा पहुंचे जहां जगातखाना में आयोजित एससी सम्मेलन में सम्मिलित हुए। अंत में अनुराग ठाकुर ने श्री नैना देवी विधानसभा के घवांडल में आयोजित भाखड़ा विस्थापित प्रकोष्ठ सम्मेलन में भाग लिया। कांग्रेस द्वारा भारतीय जनता पार्टी पर हिमाचल के 6 विधायकों को 15- 15 करोड़ रुपए में खरीदने के आरोपों का जवाब देते हुए ठाकुर ने कहा कि मैं चाहता हूं कि कांग्रेस इस बात के सबूत दे। अगर कांग्रेस के नेता आरोप लगा रहे हैं तो हिमाचल की जनता को तथ्य और सबूत जरूर दें। 
अगर सबूत नहीं दे सकते हैं तो आरोप न लगाएं। कांग्रेस द्वारा यह अपनी सरकार की विफलताओं को निराधार आरोपों से ढकने का प्रयास है। अगर वह अपना कुनबा नहीं संभाल पाए, काम न करने के कारण अपने विधायकों को नहीं संभाल पाए तो क्या इसकी दोषी भारतीय जनता पार्टी है? आने वाले लोकसभा चुनाव में अगर कांग्रेस हिमाचल की चारों सीटें हारेगी तो क्या जनता पर भी पैसे लेने का आरोप लगाएगी? अनुराग ठाकुर ने आगे पूछा कि आखिरकार कांग्रेस अपनी गारंटियाँ क्यों नहीं पूरी कर पाई? माताओं। बहनों को 1500 प्रतिमाह देने के वादे का क्या हुआ? युवाओं को 5 लाख नौकरी क्यों नहीं मिली? ₹2 प्रति किलो गोबर और ₹100 प्रति लीटर दूध क्यों नहीं खरीदा जा रहा? उनकी इन्हीं विफलताओं के कारण यह छह विधायक इनको छोड़ कर गए। निर्दलीय विधायक भी इन्हें छोड़ चुके हैं। अनुराग ठाकुर ने आगे कांग्रेस के घोषणा पत्र को झूठे वादों का पुलिंदा बताते हुए कहा कि कांग्रेस जब भी सत्ता में आई है झूठ, भ्रम और भय दिखा कर आई है। 
आज जिन-जिन राज्यों में उसने सरकार बनाई है वहां-वहां उसकी सभी गारंटियां फेल हुई हैं। देश उनका चाल, चरित्र और चेहरा जान चुका है और इसीलिए अब देश को सिर्फ और सिर्फ मोदी जी की गारंटीयों पर विश्वास है। हिमाचल प्रदेश के मंडी लोकसभा से कंगना राणावत को कांग्रेस द्वारा पैराशूट उम्मीदवार कहे जाने को अनुराग ठाकुर ने बेहद बेतुका बताते हुए कहा कि पैराशूट उम्मीदवार अभिषेक मनु सिंघवी थे जिन्हें कांग्रेस ने हिमाचल से राज्यसभा उम्मीदवार बनाया था। कंगना जी मंडी और हिमाचल की बेटी हैं जिन्होंने अपने दम पर अपना नाम कमाया है। कंगना जी मजबूती के साथ लड़ेगी और रिकॉर्ड वोटों के साथ जीतेंगी। हिमाचल विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेसी बागियों को भारतीय जनता पार्टी द्वारा टिकट दिए जाने और कांग्रेस के आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा, "कांग्रेस पहले अपना कुनबा संभाले। 
पहले कांग्रेस ये बताए कि किन कारणों से उनके छह विधायक, वर्किंग प्रेसिडेंट, पूर्व मंत्री और तीन बार के विधायक उन्हें छोड़कर चले गए? हिमाचल वासियों को आगामी लोकसभा चुनाव हेतु विशेष संदेश देते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि मोदी ने सदैव हिमाचल को अपना दूसरा घर माना है। एक छोटे पहाड़ी राज्य को पिछले 10 वर्षों में उन्होंने इतना दिया है जितना पहले के 60 वर्षों में नहीं मिला। इसलिए इस विकास की रफ्तार को और तेज करने हेतु मोदी जी को हिमाचल की चारों लोकसभा सीटें दीजिए और इसके साथ-साथ उपचुनाव में छह विधानसभाओं में भी भारतीय जनता पार्टी को विजय दिलाइए। हमीरपुर लोकसभा से अपनी जीत पर बोलते हुए श्री अनुराग ठाकुर ने कहा, "हमीरपुर की देवतुल्य जनता ने पिछले चार बार से मुझे अपना सांसद चुनकर दिल्ली भेजा है। चौथी बार में जनता ने मुझे चार लाख वोटों से जिताया था।पांचवी बार 5 लाख वोटों से जिताकर अपनी सेवा करने का मौका देंगे। एससी मोर्चा सम्मेलन को संबोधित करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा “कांग्रेस की क्या मजबूरी थी की डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी का अपमान करना जरूरी समझा। 
उन्होंने भारत को संविधान बनकर दिया अरे कांग्रेस को तो उनको इतना मान सम्मान देना चाहिए था जैसा नरेंद्र मोदी जी ने दिया है लेकिन कांग्रेस का मन छोटा था वह नेहरू गांधी परिवार तक ही सीमित थे बाबासाहेब अंबेडकर को उन्होंने कोई मान सम्मान नहीं दिया , लेकिन जैसे गैर कांग्रेसी सरकार आई बाबा साहब को भारत रत्न देने का काम भी किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमारी सरकार दलितों, शोषितों वंचितों को मुख्यधारा से जोड़कर उन्हें संवैधानिक अधिकार के साथ साथ सामाजिक न्याय और समान अवसर देने के लिए प्रतिबद्ध है। अनुसूचित जाति के विकास के लिए, उनकी पढ़ाई के लिए, उनको मुख्यधारा में लाने के लिए मोदी सरकार ने विशेष योजनाओं पर काम किया है। 

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow