ज़िला की समृद्ध सांस्कृतिक धरोहर का हिस्सा है अंतरराष्ट्रीय मिंजर मेला : पठानिया

विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मिंजर मेला-2024 का आयोजन पूर्ण भव्यता के साथ किया जाएगा। कुलदीप सिंह पठानिया ने अंतरराष्ट्रीय मिंजर मेले को चंबा ज़िला की समृद्ध सांस्कृतिक धरोहर का हिस्सा बताते हुए कहा कि इस बार मिंजर मेला सांस्कृतिक समावेश की परिकल्पना पर आधारित

Jun 9, 2024 - 16:10
 0  12
ज़िला की समृद्ध सांस्कृतिक धरोहर का हिस्सा है अंतरराष्ट्रीय मिंजर मेला : पठानिया

यंगवार्ता न्यूज़ - चंबा    09-06-2024

विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मिंजर मेला-2024 का आयोजन पूर्ण भव्यता के साथ किया जाएगा। कुलदीप सिंह पठानिया ने अंतरराष्ट्रीय मिंजर मेले को चंबा ज़िला की समृद्ध सांस्कृतिक धरोहर का हिस्सा बताते हुए कहा कि इस बार मिंजर मेला सांस्कृतिक समावेश की परिकल्पना पर आधारित होगा और इसके वैभव व  स्वरूप  को और अधिक बढ़ाया जाएगा। 

बैठक में स्थानीय विधायक नीरज नैय्यर भी विशेष रूप से मौजूद रहे। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन को लेकर बैठक में विस्तृत चर्चा के उपरांत विधानसभा अध्यक्ष ने मिंजर मेला के अंतरराष्ट्रीय स्तर और समस्त ज़िला वासियों की रूचि के अनुरूप  स्टार कलाकारों का चयन करने के निर्देश दिए। 

साथ में उन्होंने यह भी कहा कि ज़िला की समृद्ध लोक-कला एवं संस्कृति को अधिमान  देते हुए उत्कृष्ट  प्रतिभावान स्थानीय कलाकारों के चयन में विशेष प्राथमिकता रखी जाए। उन्होंने स्थानीय कलाकारों को दी जाने वाली धनराशि को बढ़ाने के लिए  आयोजन समिति को निर्देश दिए। 

कुलदीप सिंह पठानिया ने मेले के भव्य आयोजन को लेकर राज्य सरकार द्वारा हर संभव सहायता उपलब्ध करवाने का आश्वासन भी दिया। विधायक नीरज नैय्यर ने कहा कि मिंजर मेले के सफल आयोजन को लेकर सभी प्रबंध व्यवस्थाओं और गतिविधियों को बेहतर बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि चूंकि चंबा का ऐतिहासिक चौगान  ज़िला की एक प्रमुख धरोहर है।   

ऐसे में मेले  के पश्चात चौगान  के उचित रख-रखाव के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएं। उन्होंने सांस्कृतिक संध्याओं के लिए  स्टार कलाकारों का चयन करने को लेकर भी  आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 

बैठक में मिंजर मेला आयोजन से संबंधित विभिन्न विषयों पर  चर्चा के दौरान उपायुक्त एवं अध्यक्ष आयोजन समिति मुकेश रेपसवाल ने बताया कि  परंपरा के अनुसार मेला 28 जुलाई से 4 अगस्त  (श्रावण मास के दूसरे रविवार से अगले रविवार) तक हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा।मेले के शुभारंभ अवसर पर महामहिम राज्यपाल और समापन समारोह में मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश को आमंत्रित किया जाएगा।

शोभा यात्रा को और भव्य बनाने के  लिए उपायुक्त ने बताया कि स्थानीय संस्कृति के अनुरूप देवी-देवताओं की पालकियां , झंडे, वाद्य यंत्र, पारंपारिक परिधान  इत्यादि की समुचित उपलब्धता को सुनिश्चित बनाया जाएगा। बैठक में विभिन्न उप समितियों के संयोजकों ने मेले के भव्य आयोजन को लेकर अपना-अपना दृष्टिकोण साझा किया। 

मेले के दौरान खेलकूद  प्रतियोगिताएं, कानून एवं व्यवस्था, निमंत्रण कार्ड ,स्मारिका प्रकाशन, विभिन्न आय साधनों, तहबाजारी उप समिति, सांस्कृतिक  संध्याओं का समय बढ़ाने, साफ सफाई व्यवस्था सहित 10 से अधिक विषयों पर इस दौरान विस्तृत  चर्चा की गई। बैठक में कार्यवाही का संचालन सहायक आयुक्त- उपायुक्त पीपी सिंह ने  किया। 

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव, मुख्य वन अरण्यपाल अभिलाष दामोदरन, अतिरिक्त  ज़िला दंडाधिकारी  राहुल चौहान, कमांडेंट होमगार्ड विनोद धीमान, एसडीएम चंबा अरुण शर्मा, अधीक्षण अभियंता लोग निर्माण विभाग दिवाकर पठानिया, जल शक्ति राजेश मोगरा, विद्युत राजीव ठाकुर  सहित  मिंजर् मेला आयोजन समिति के सरकारी एवं गैर सरकारी सदस्य उपस्थित रहे।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow