हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने छात्रों का डाटा डीजी लॉकर में उपलब्ध करवाने की प्रक्रिया की शुरू

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने पिछले 10 सालों के 10वीं व 12वीं के लाखों विद्यार्थियों का डेटा डीजी लॉकर में उपलब्ध करवाने की प्रक्रिया शुरु कर दी है। विद्यार्थियों को डिटेल्ड मार्कशीट, माइग्रेशन सर्टिफिकेट और पासिंग सर्टिफिकेट उपलब्ध करवाए जाएंगे। छात्र एक क्लिक पर अपना रिकार्ड देख पाएंगे। बोर्ड जब दसवीं या 12वीं का परीक्षा परिणाम निकलता है तो उसका सर्टिफिकेट जारी करने में समय लगता था

Sep 10, 2023 - 19:20
Sep 10, 2023 - 19:24
 0  47
हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने छात्रों का डाटा डीजी लॉकर में उपलब्ध करवाने की प्रक्रिया की शुरू
 
यंगवार्ता न्यूज़ - धर्मशाला  10-09-2023
हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने पिछले 10 सालों के 10वीं व 12वीं के लाखों विद्यार्थियों का डेटा डीजी लॉकर में उपलब्ध करवाने की प्रक्रिया शुरु कर दी है। विद्यार्थियों को डिटेल्ड मार्कशीट, माइग्रेशन सर्टिफिकेट और पासिंग सर्टिफिकेट उपलब्ध करवाए जाएंगे। छात्र एक क्लिक पर अपना रिकार्ड देख पाएंगे। बोर्ड जब दसवीं या 12वीं का परीक्षा परिणाम निकलता है तो उसका सर्टिफिकेट जारी करने में समय लगता था। 
डिटेल्ड मार्कशीट जारी होने पर समय लगता है। वहीं कई विद्यार्थी ऐसे हैं, जो कि बाहरी प्रदेशों में जाना चाहते हैं वहां पर एडमिशन लेना चाहते हैं तथा उनके माइग्रेशन सर्टिफिकेट की आवश्यकता पड़ती है। कई विद्यार्थी ऐसे जो कि 12वीं के पास होने के बाद 12वीं के स्तर की केंद्र सरकार की नौकरी प्राप्ति के इच्छुक है, उन्हें पासिंग सर्टिफिकेट की आवश्यकता पड़ती थी , लेकिन सर्टिफिकेट प्राप्ति के लिए उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ता था।
 हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड सचिव डा. मेजर विशाल शर्मा ने कहा कि आने वाले सत्र में दसवीं व 12वीं के विद्यार्थियों की डिटेल्ड मार्कशीट, माइग्रेशन सर्टिफिकेट और पासिंग सर्टिफिकेट डीजी लॉकर में डाल दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि पिछले 10 सालों का डेटा यानी कि 2012 से लेकर अब तक डेटा डिजी लॉकर पर उपलब्ध करवा देेंगे। उन्होंने कहा कि यदि किसी ने दस्तावेजों की वेरिफिकेशन करवानी होगी तो वह ऑटोमेटिक हो जाएगी।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow