नाहन शहर में लगेंगे स्पीड ब्रेकर, तीसरी आँख करेगी शहर की निगरानी : उपायुक्त

उपायुक्त सिरमौर सुमित खिमटा ने कहा कि सड़क सुरक्षा के दृष्टिगत जिला के शिक्षण संस्थानों विशेषकर मैडिकल कॉलेज, डिग्री कॉलेज, सरकारी और निजी व्यवसायिक प्रशिक्षण संस्थानों आदि में विशेष जागरूकता अभियान चलाया..

Jul 10, 2024 - 13:04
Jul 10, 2024 - 15:45
 0  26
नाहन शहर में लगेंगे स्पीड ब्रेकर, तीसरी आँख करेगी शहर की निगरानी : उपायुक्त

यंगवार्ता न्यूज़ - नाहन   10-07-2024

उपायुक्त सिरमौर सुमित खिमटा ने कहा कि सड़क सुरक्षा के दृष्टिगत जिला के शिक्षण संस्थानों विशेषकर मैडिकल कॉलेज, डिग्री कॉलेज, सरकारी और निजी व्यवसायिक प्रशिक्षण संस्थानों आदि में विशेष जागरूकता अभियान चलाया जाये। उन्होंने कहा कि मानवीय जीवन अत्यंत मूल्यवान है, इसलिए रोड़ एक्सीडेंट से बचने के लिए हमें समाज के हर वर्ग विशेषकर युवा वर्ग को जागरूक बनाना होगा।

उपायुक्त सुमित खिमटा ने कहा कि सिरमौर जिला की विभिन्न सड़कों के 18 ब्लैक स्पॉट को ठीक करने तथा साईन बोर्ड आदि लगाने के लिए 3.30 करोड़ रुपये का एस्टीमेट तैयार कर परिवहन विभाग हिमाचल प्रदेश को भेजा गया है। उन्होंने लोक निर्माण  के अधिशासी अभियंता और क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी परिवहन विभाग को शिमला स्तर पर तालमेल बनाने के लिए कहा ताकि वांछित धनराशि प्राप्त हो सके।

सुमित खिमटा ने नाहन शहर में वाहनों विशेषकर दो पहिया वाहनों की गति को नियंत्रित करने के लिए स्पीड ब्रेकर, रंबल स्ट्रीप और सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए स्थान चिन्हित करने के निर्देश लोक निर्माण, नगर परिषद और पुलिस विभाग को दिये। 

नाहन शहर में ओवर स्पीड के कारण एक्सीडेंट का अंदेश बना रहता है और इस बारे में समय-समय पर उनके पास नागरिकों की तरफ से आग्रह भी मिल रहे हैं। उन्होंने सभी अभिभावको को अपने बच्चों को दोपहिया वाहन को कम से कम स्पीड पर चलाने के लिए प्रेरित करने का आग्रह भी किया।

उपायुक्त ने मुख्य सड़कों पर दुर्घटना संभावित स्थल पर साईन बोर्ड लगाने के लिए के निर्देश पुलिस और लोक निर्माण विभाग को दिये। उन्हांेंने कहा कि दुर्घटना संभावित स्थलों में शीघ्र अति शीघ्र साईन बोर्ड लगाकर वाहन चालकों को जागरूक किया जाये ताकि रोड़ एक्सीडेंट में कमी लाई जा सके।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी सिरमौर डा. अजय पाठक ने बताया कि सिरमौर जिला में स्वास्थ्य विभाग द्वारा निशुल्क 108 एंबुलेंस सेवा के तहत 22 एंबुलेंस तैनात किये गये हैं जो कि 24 घंटे अपनी सेवायें उपलब्ध करवा रही हैं। उन्होंने कहा कि रोड़ एक्सीडेंट व अन्य आपदा के समय एंबुलेंस सेवाओं को उपयोग किया जा रहा है।

रोड सेफटी क्लब नाहन के अध्यक्ष नरेन्द्र तोमर ने नाहन शहर में जनहित में वाहनों की गति नियंत्रित करने के लिए स्पीड ब्रेकर और सीसीटीवी कैमरे लगाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि रोड़ सेफटी क्लब द्वारा समय-समय पर वाहन चालकों के लिये प्रशिक्षण और जागरूगता कार्यक्रम भी चलाये जा रहे हैं। उन्होंने वाहन चालकों से जनहित में नाहन शहर में कम से कम स्पीड में वाहन चलाने का आग्रह किया।

उप पुलिस अधीक्षक रमाकांत ठाकुर ने कहा कि ओवर स्पीड करने वाले वाहन चालकों पर पुलिस विभाग की पैनी नजर है और समय-समय पर चालान भी किये जा रहे हैं। उन्होंने कालाआंब-पांवटा साहिब राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर और अधिक साईन बोर्ड लगाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि माजरा में राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर साईन बोर्ड और आईटीएमएस कैमरा लगने के बाद सड़क दुर्घटनाओं में बहुत कमी आई है जिसकी प्रदेश स्तर पर सराहना हुई है। 

उन्होंने कहा कि मुख्य सड़कों और शहरी क्षेत्रों में आईटीएमएस अथवा एएनपीआर कैमरे लगाये जाये की आवश्यकता है ताकि सड़क दुर्घटनाओं को कम किया जा सके। अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग नाहन आलोक जनवेजा ने कहा कि जिला की विभिन्न सड़कों में चिन्हित 18 ब्लैक स्पॉट को परिवहन विभाग हिमाचल प्रदेश के माध्यम से धन मिलते ही ठीक कर दिये जायेंगे। 

उन्होंने कहा कि जिला के विभिन्न दुर्घटना संभावित स्थलों पर साईन बोर्ड भी लगाये जायेंगे। उन्होंने जिला रोड़ सेफटी समिति के तहत जारी प्रगति के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की।

जिला राजस्व अधिकारी चेतन चौहान, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी सचिन्द्र चौधरी, मैडिकल कॉलेज से डा. सुनील कक्कड़, राष्ट्रीय उच्च मार्ग के अधिशासी अभियंता मनोज कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी संजय परमार सहित अन्य सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों ने भी रोड़ सेफटी से सम्बधित विभागीय जानकारियां प्रस्तुत कीं।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow